Sunday, January 20, 2013



दिलों में आग का दरिया और बगावत का इरादा हो,
विरोधी दुश्मनों से भी निपटने का इरादा हो.
कोई बारूद रॉकेट तोप उसका कुछ कर नहीं सकते,
वतन पे जांनिसारी का किया जिसने खुद से ही वादा हो.

© सुशील मिश्र.
  20/01/2013
Post a Comment